Artificial Intelligence (AI) क्या है? इसके क्या-क्या उपयोग Or अनुप्रयोग है?

Artificial Intelligence को यदि हम सरल भाषा मे कहे तो इसका अर्थ है एक ऐसी मशीन जिसमे सोचने समझने और निर्णय लेने की क्षमता का विकास हो सके। और AI को कंप्यूटर साइंस का एक उन्नत रूप मान लिया गया है जिसमे मशीन का ऐसा दिमाग़ बनाया जाता है जो बिना किसी समस्या के उसका हल आसानी से निकाल सके।और ऐसा दिमाग़ जो कंप्यूटर की तरह तेज हो और उसी की तरह कार्य कर सके।

AI का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है

AI का फुल फॉर्म हिन्दी मे आर्टिफिसियल एजेंसी(कृत्रिम बुद्धिमता )होता हैं यह एक ऐसी तकनीक हैं जिसमे कोई भी मशीन खुद से ही सोचने समझने की क्षमता रखती हो। उसे आम बोलचाल हिन्दी भाषा मे हम आर्टिफिशयल एजेंसी कहते हैं।

  • A- artificial ( कृत्रिम )
  • I- एजेंसी (बुद्धिमता )

Artificial Intelligence की खोज

artificial intelligence kya hai

Artificial intelligence की खोज जॉन मैकार्थी ने की थी इन्हे इंटेलिजेंन्स का जनक भी कहा जाता हैं।वह एक अमेरिका मे जाने माने कंप्यूटर साइंटिस्ट कहे जाते हैं।dartmouth नामक कालेज मे उन्होंने कार्यशाला मे भाग लिया था। जिसमे उन्होंने AI के बारे मे पूरी जानकारी दी।

जॉन मैक कार्थी कहते है कि आर्टिफिशल इंटेलीजेंस एक उच्च कोटि का विज्ञान है।जो मशीनों  मे बुद्धिमता का विकास कर सकता है।इसकी मदद से रोबोट और कंप्यूटर के प्रोग्राम बनाये जा सकते है।जो कि मानव के दिमाग़ पर और मानव का दिमाग़ जिस तरीके से कार्य करता है वैसे ही वह कार्य करें। 

Artificial Intelligence के प्रकार

इनके बहुत से प्रकार होते है जो कि निम्नलिखित है –

  • Reactive machine
  • Limited memory
  • Theory of mind
  • Self awareness
  • Weak ya narrow ai
  • Artificial general intelligence
  • Artificial super inteligence

Artificial Intelligence के उपयोग Or अनुप्रयोग

artificial intelligence

आर्टिफिशल इंटेलिजेंन्स का उपयोग रोबोटिक्स के अलावा और भी कई ऐसे क्षेत्र है जहा इनका इस्तेमाल होता है।जैसे-

1. Education system –शिक्षा के क्षेत्र मे इसका उपयोग ऑनलाइन एग्जाम से लेकर ग्रेडिंग system तक उपयोग हो रहा है।हर एक बच्चे के स्तर को ध्यान मे रखते हुए ही उन्हें परिणाम दिया जाना चाहिए। क्योकि हर एक बच्चे का लेवल अलग होता है कोई बहुत इंटेलिजेंट तो कोई समान्य स्तर का होता है। AI की मदद से smart कंटेंट उपलब्ध करवाया जाता है।

2.  Healthcare sector-आजकल के युग मे ऐसी मशीने आ गयी है जिससे  हर इलाज सम्भव हो गया है। ऐसी मशीन जो लोगो के शरीर मे जाकर छोटे छोटे रोगों का पता लगा लेती है। सर्जरी के दौरान छोटे छोटे रोबोट को भेजा जाता है और इलाज किया जाता है। कई मायनो मे देखे तो AI हेल्थ सेक्टर मे वरदान साबित हुआ है।जो complicated सर्जरी आसानी से हो सकती है मरे हुए लोगो तक की जान बचा सकती है। दवाई और जीवन रक्षक टीका का परीक्षण किया जाता है।

3. Finance sector- फाइनेशियल सेक्टर मे देखा जाये तो bank मे कामकाज को आसान बनाने के लिए ai का उपयोग किया जाता है। जैसे फॉर्म fill करने, new account खोलने के लिए,सवालों का जवाब देने के लिए AI की मदद ली जाती है जिससे कि feedback लेने मे मदद मिल सके। और देखा जाये तो इस सेक्टर मे दुनियाभर की रिपोर्ट्स होती है उसका विश्लेषण करने के लिए Ai का उपयोग किया जाता है ताकि कोई दिक्कत का सामना ना करना पड़े। टूल्स और financial सॉफ्टवेयर मे भी इसका उपयोग किया जाता है।

4. Manufacturing –पहले के युग मे मशीनो का अधिकतर उपयोग किया जाता था जिससे श्रम और समय की ज्यादा जरूरत पडती थी लेकिन आजकल वह सब काम आटोमेटिकली मशीन से हो जाता है जिसमे श्रम और मेहनत कम लगती है इन सब कार्यों मे Ai का सबसे बड़ा योगदान रहा है।जिससे कि पैसे की भी बचत होती है।और एक मशीन से हजारों लोगो का काम कुछ ही समय मे हो जाता है।

5. Surveillance –निगरानी तंत्र मे ai का सबसे बड़ा योगदान रहा हैं। कंप्यूटर और वीडियो प्रोग्राम के जरिये इंसान और जानवर मे फर्क आसानी से किया जाता हैं। Photo देखकर दुश्मन का पता लगाया जा सकता हैं।

मशीन विज़न एक ऐसी मशीन है जिसमे दुश्मन की पहचान आसानी से हो सकती है।जिससे उसकी. लम्बाई गति चौड़ाई और movement आसानी से पता लगाई जा सकती है।और यह mathematical का एक सेट होता है जिससे किसी भी चीज की आसानी से पहचान की जा सकती है। इसे hindi मे मशीन दृष्टि कहते है।

6. Daily life –दैनिक जिंदगी मे भी Ai का इस्तेमाल होता है led बल्ब से लेकर tv, रेफ्रीजिरेटर और वाशिंग मशीन तक आटोमेटिक हो गए है पहले ऐसा नहीं होता तजा लेकिन अब ऐसा ai की मदद से बहुत आसान हो गया है। जिससे समय की बचत होती है। हर एक जरूरी चीज हमारी लाइफ का एक अभिन्न अंग बन गयी है।

घर मे अलार्म लगाया तो हमारे मोहल्ले तक को पता चल जाता है क्योकि अलार्म आवाज करने लगता है। और आजकल तो आपको कार लेते ही ड्राइवर की टेंशन लेने की भी जरूरत नहीं होती इसके लिए driver less कार आ गयी है। जो कि आपको गंतव्य स्थान तक आसानी से पंहुचा सकती है।

अनुप्रयोग

ऑफिसियल इंटेलिजेंन्स की मदद से सारी समस्या का हल निकल पाया हैं मैन्युफैक्चरिंग से लेकर शेयर मार्किट और शिक्षा के क्षेत्र मे हर जगह ai का उपयोग हो रहा हैं हमारे रोजमर्रा के जीवन मे भी इसका इस्तेमाल काफ़ी हो रहा हैं।

अनुप्रयोग (दुष्परिणाम )

  • कंप्यूटर गेम्स
  • मशीन दृष्टि
  • वाक पहचान
  • एक्सपर्ट system
  • सर्र्वीलेंस
  • मशीन लर्निंग
  • महा संगनक
  • बुद्धिमान रोबोटस

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के एप्लिकेशन्स

artificial intelligence kya hai

आर्टिफिशयल इंटेलिजेंन्स के एप्लीकेशन इस प्रकार है

  1. शिक्षा
  2. बिज़नेस
  3. स्वास्थ्य की देखभाल
  4. फाइनेंस
  5. क़ृषि
  6. ऑटोमोन्स व्हीकल 

1.बिज़नेस

बिज़नेस मे जब भी ग्राहक के साथ सम्बन्ध बनाने की बात आएगी तो सबसे पहले हम उन कार्यों से निबटने की कोशिश करेंगे जिसमे ai का उपयोग कर के कुछ कार्य मानव द्वारा किये जायेगे। जिससे कि website वाले लोगो की हेल्प करने मे मदद मिल सकेगी जिसमे मशीन लर्निंग एलगोरिथम का उपयोग कर रही है।और इनकी तत्काल सेवाओं मे chatbot शामिल है।

2.शिक्षा

शिक्षा के क्षेत्र मे ai ने अपना बहुत बड़ा रोल निभाया है जिसमे जब भी असाइनमेंट स्कूली छात्रों द्वारा बनाया गया है तो उसके लिए अध्यन सामग्री छात्रों को दी गयी है और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये भी स्मार्ट तरीके से अध्ययन सामग्री दी गयी जिससे प्रोद्योगिकी को प्रभावी बनाया जाने मे सफलता हासिल हुई है। इसमें शिक्षा ने महत्वपूर्ण रोल निभाया है छात्र ऑनलाइन कोर्स कर सकते है और ऑनलाइन एप्लीकेशन भी जारी किये गए है।जिसमे ऑनलाइन करियर कॉउंसलिंग शामिल है।

Artificial Intelligence का भविष्य

 आजकल तकनीक के बढ़ते चरणों के मध्य नजर देखते हुए हम जिस दिशा मे जा रहे हैं उसका अंदाजा लगा पाना बहुत ही कठिन हो गया हैं। हर एक चीज के लिए हम मशीनो पर निर्भर हो गए है।

टीवी से लेकर मोबाइल तक। पहले और आधुनिक युग मे काफ़ी बदलाव देखने को मिलते नजर आते है। अब ऐसा लगने लग गया है कि आने वाले समय मे हम पूरी तरह मशीनों पर निर्भर हो जायेगे। यानि कि बिना मशीन के कोई काम नहीं होगा।

 ऐसी स्मार्ट मशीन भी आ जाएगी जिन्हे command देने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी। ऐसी तकनीक जिसमे ऐसी मशीन शामिल होंगी जो अपना कार्य किसी भी जिम्मेदारी के साथ निभाएगी। और हम आलसी होते जायेगे।और इस बात से बेहद डर लगता है क्योंकि हम काम के आदि नहीं हो पाएंगे।

इससे देश का भविष्य खोखला होता हुआ नजर आता है। ऐसा इसलिये क्योकि देश का हर एडुकेटेड इंसान अपनी शिक्षा से पिछड़ जायेगा। ज़ब तक वह मशीनो पर ही निर्भर रहेगा।

Artificial Intelligence से खतरा

यह हमारे लिए खतरा इसलिए बन सकती है क्योकि यह मशीन के कारण भी उन नौकरियो पर संकट आ जायेगा।जिनके लिए इंटेलीजेंट लोगो कि जरूरत पडती है। और ऐसा अभी भी हो रहा है कि कम्यूटर के कारण काफ़ी सारी नौकरियों पर खतरा रहा है।ऐसे मे बेरोजगारी बढ़ने के chances बढ़ गए है।

दूसरा डर यह भी हैं कि जब वह मशीन तैयार हो जाएगी तो वह अपनी मर्जी से काम करेंगी हमारी बात को अनसुना कर देगी हमारी मर्जी के मुताबिक अगर कोई काम होगा तो वह मना कर देगी क्योकि हमारा उनके बिना काम नहीं चल पायेगा और हमें उनके सामने झुकना पड़ेगा।

इसलिए हमारे लिए बौद्धिक क्षमता उनके अंदर फिट करना हमारे लिए खतरे कि घंटी साबित हो सकती है। और आप ये सोचिये कि अगर उनके खिलाफ कोई कार्य हुआ तो वह विरोध करेगी तो kya असर होगा।इसका उदाहरण रोबोट मूवी मे आप देख चुके होंगे। वह कल्पना मात्र रही थी पर सोचो अगर हम उनके गुलाम बनके रहे तो मानव जाति गुलाम बनके रह जाएगी और उनके आगे सर झुकाना पड़ जायेगा।

FAQS:

1.आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से आप क्या समझते हैं

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंन्स एक ऐसी तकनीक है जिसके द्वारा कोई भी मशीन कोई भी कार्य को समझने  की क्षमता रखती हो। यह कंप्यूटर साइंस का ही विभाग से जुडी है और पूरी तरह से कंप्यूटिंग सिस्टम पर ही आधारित है।

2.AI क्या है समझाइए?

कृतिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) एक ऐसी तकनीकी है जिससे कि AI की सहायता से कंप्यूटर के माइंड को इतना उन्नत कर दिया जाता है कि कंप्यूटर भी इंसानों की तरह सोचने और कार्य करने लगता है.

Ai का लक्ष्य ऐसे उपकरणो को बनाना है जो बुद्धिमान से और समझदारी से कार्य कर सके। यह सब कंप्यूटर के सिस्टम से संबंधित है। यह मशीनों का दिमाग़ ही कहा जा सकता है क्योकि इसकी मदद से बनाई गयी मशीने बिना किसी मदद के आसानी से काम कर सकती है।यह इंसानों की तरह ही समस्या को हल कर सकती है।

3.आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कितने प्रकार के होते हैं?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस 4 प्रकार के होते है-

  • पूर्णतः प्रतिक्रियात्मक
  • सीमित स्मृति
  • मस्तिष्क सिद्धांत
  • आत्म-चेतन

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उद्देश्य क्या है?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उद्देश्य व्यक्ति की निर्णय लेने मे सुधार करता हैं। और आने वाले समय मे तकनीक का विकास इतना बेकाबू हो जायेगा कि मानव जीवन शैली मे परिवर्तन होंगे।और आने वाले समय मे इंसान अपना निर्णय आसानी से ले पायेगा।

इस आर्टिकल के अंत मे हमने क्या सीखा इस बारे मे जानकारी देंगे सबसे पहले artificial intelligence means in hindi, artificial inteligence kya hota hain और मशीनो के उपयोग और दुष्प्रेभाव के बारे मे जानते जानते हमने उससे होने वाले खतरे के बारे मे जाना और साथ ही artificial intelligence definition in hindi भी सीखा आशा करते hain आपको इस आर्टिकल को पढ़कर अच्छा लगेगा और जानकारी को शेयर करना न भूलियेगा।

ये भी पढ़े:

blogger meaning in hindi
affiliate marketing in hindi
social media kya hai
seo kya hai
play store ki id kaise banate hain
youtube se paise kaise kamaye
blog se paise kaise kamaye